क्रिकेट की दुनिया में कई ऐसे खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने दो देशों की तरफ से क्रिकेट (Cricket) खेला। इसके लिए उन्होंने अपने वतन को भी छोड़ा और दूसरे देश में जाकर बस गए। इसकी सबसे बड़ी वजह है अपने देश में पर्याप्त अवसर न मिल पाना। इससे निराश होकर खिलाड़ी दूसरे देशों को रुख कर लेते हैं। आज हम ऐसे ही क्रिकेटरों की बात करने जा रहे हैं जिन्होंने दो देशों का प्रतिनिधित्व किया। अब्दुल हाफिज कारदार, गुल मोहम्मद और आमिर इलाही ऐसे 3 क्रिकेटर थे जिन्होंने भारत और पाकिस्तान दोनों देशों की तरफ से खेला।

1. अब्दुल हाफिज कारदार

भारत और पाकिस्तान दोनों देशों की तरफ से क्रिकेट (Cricket) खेलने वाले खिलाड़ी में सबसे पहला नाम अब्दुल हाफिज कारदार का था। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दोनों देशों का प्रतिनिधित्व किया। अब्दुल ने पाकिस्तान क्रिकेट में काफी अहम योगदान दिया। वह पाकिस्तान के पहले कप्तान भी थे। उनके क्रिकेट (Cricket) करियर की अगर बात करें तो अब्दुल हाफिज ने 26 टेस्ट और 174 प्रथम श्रेणी मुकाबले खेले जिसमें उनके नाम क्रमश: 927 व 6832 रन दर्ज हैं।

2. गुल मोहम्मद

गुल मोहम्मद का जन्म सन् 1921 को पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था। उनकी पढ़ाई इस्लामिया कॉलेज में हुई। वह बाएं हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज माने जाते थे। उन्होंने महज़ 17 साल की उम्र में अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया था। अपने पहले ही मैच में गुल मोहम्मद ने 95 रनों की बेहद शानदार पारी खेली। उन्होंने भारत और पाकिस्तान दोनों देशों की तरफ से क्रिकेट (Cricket) खेला। अपने करियर में 9 टेस्ट और 118 प्रथम श्रेणी मैच खेल चुके गुल मोहम्मद के नाम 205 और 5614 रन हैं।

3. आमिर इलाही

आमिर इलाही भारत-पाकिस्तान दोनों देशों की तरफ से क्रिकेट (Cricket) खेलने वाले तीसरे और आखिरी क्रिकेटर थे। उन्होंने कुल 6 टेस्ट मैच खेले। एक मैच उन्होंने भारत की तरफ से, तो वहीं 5 टेस्ट मैचों में उन्होंने पाकिस्तान टीम का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने अपने क्रिकेट (Cricket) करियर की शुरुआत मीडियम पेसर के रूप में की, मगर बाद में चलकर वह लेग स्पिनर बन गए। 6 टेस्ट और 125 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके आमिर इलाही के नाम क्रमश: 82 और 2562 रन दर्ज हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *