क्रिकेट की दुनिया में एक से बढ़कर एक खूंखार गेंदबाज हुए हैं। शुरुआती दशकों की अगर बात करें तो डेनिस लिली, मैल्कम मार्शल, माइकल होल्डिंग। थोड़ा आगे बढ़ें तो वकार यूनिस, वसीम अकरम, एलन डोनाल्ड, शोएब अख्तर। इन गेंदबाजों के आगे बड़े से बड़े बल्लेबाज भी कांपते थे। हालांकि इनके अलावा विश्व क्रिकेट में एक ऐसा गेंदबाज भी हुआ जिससे गेंद बातें करती थी।

ऐसा खतरनाक गेंदबाज जिससे गेंद बातें करती थी

क्रिकेट जगत को अगर किसी देश ने सबसे अधिक तेज गेंदबाज दिए हैं तो वो है पाकिस्तान। इसी वतन की मिट्टी में एक ऐसा सूरमा गेंदबाज ने भी जन्म लिया, जिसने आगे चलकर दिग्गज खिलाड़ियों की सूची में अपना नाम दर्ज कराया। हम बात कर रहे हैं पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ (Mohammad Asif) की। दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज को लेकर ऐसा कहा जाता है कि गेंद उनसे बातें करती थी।

फिक्सिंग ने किया करिश्माई बॉलर का करियर बर्बाद

मोहम्मद आसिफ (Mohammad Asif) इन-स्विंग और आउट-स्विंग दोनों कलाओं के जादूगर थे। बल्लेबाजों के लिए उनकी गेंदों को पढ़ पाना किसी टेढ़ी खीर से कम नहीं थी। मगर इस करिश्माई गेंदबाज का करियर ज्यादा लंबा चल न सका। साल 2010 की स्पॉट फिक्सिंग की घटना ने इस खिलाड़ी से उसका सब कुछ छीन लिया। मोहम्मद आसिफ (Mohammad Asif) का करियर शुरु होने से पहले ही खत्म हो गया।

कुछ ऐसा रहा मोहम्मद आसिफ का क्रिकेट करियर

मोहम्मद आसिफ (Mohammad Asif) का क्रिकेट करियर भले ही छोटा हो मगर उनके चाहने वाले आज भी उनकी तारीफ में कसीदें पढ़ते हैं। उन्होंने पाकिस्तान की तरफ से 23 टेस्ट मैच खेले जिसमें उन्होंने 106 विकेट चटकाए। इसके अलावा 38 एकदिवसीय में उनके नाम 46 विकेट दर्ज हैं। हाल ही में मोहम्मद आसिफ की प्रशंसा उनकी ही टीम के दिग्गज क्रिकेटर वकार यूनिस, वसीम अकरम आदि ने सार्वजनिक तौर पर की है। क्रिकेट जगत में मोहम्मद आसिफ (Mohammad Asif) जैसा दूसरा गेंदबाज नहीं हुआ।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *