क्रिकेट की दुनिया में किसी ने ढेरों रन बनाकर बल्लेबाजी में कई रिकॉर्ड बनाए, तो कई गेंदबाजों ने अनगिनत विकेट चटकाकर कीर्तिमान स्थापित किए। हालांकि इस खेल में एक और क्षेत्र में खिलाड़ी योगदान देते तो हैं मगर उनकी सराहना कम ही होती है वो हैं फील्डर। मगर दुनिया में एक ऐसा खिलाड़ी भी हुआ जिसने अपनी गजब की फील्डिंग के जरिए विश्व में अलग नाम बनाया। वो खिलाड़ी हैं दक्षिण अफ्रीका के जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) जो आज अपना 54 वां जन्मदिन मना रहे हैं।

दुनिया के सबसे बेहतरीन फील्डरों में से एक

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) दुनिया के बेहतरीन फील्डरों में से एक हैं। उन्होंने अपनी फील्डिंग की बदौलत पूरे विश्व में अपनी एक अलग पहचान बनाई। वह साउथ अफ्रीका की तरफ से 52 टेस्ट, 245 वनडे खेल चुके हैं। टेस्ट में उनके नाम 2532 रन हैं। वहीं वनडे क्रिकेट में उन्होंने 5935 रन बनाए हैं। हालांकि उन्होंने बल्लेबाजी से इतर अपनी पहचान एक फील्डर के रूप में बनाई। हवा में छलांग लगाकर अद्भुत कैच लेने के अलावा, डाइव लगाकर रन-आउट करना उनके लिए बाएं हाथ का खेल था।

अपनी फील्डिंग से बने थे मैन ऑफ द मैच Jonty Rhodes

जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) आज अपना 54वां जन्मदिन मना रहे हैं। साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी के इस खास दिन पर उनके द्वारा किया गया एक कारनाम याद आता है। दरअसल साल 1993 में वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका के बीच वनडे मुकाबला खेला जा रहा था। इस मैच के दौरान अफ्रीकी खिलाड़ी डेरेन कुलीनन के चोटिल होने के बाद जोंटी रिप्लेसमेंट के तौर पर खेलने उतरे। इस मैच के दौरान उन्होंने फील्डिंग में 5 कैच लपके। साउथ अफ्रीका इस मैच को 41 रनों से जीत लिया। जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) को इस कारनामे के लिए मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला था।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *